COURSES


BASIC COURSE

अकादमी का मूलभूत कार्य यह है कि भर्ती उपरांत अधिकारियों/कर्मचारियों को विभाग में एंट्री लेबल प्रशिक्षण जिसे मूलभूत प्रशिक्षण भी कहा जाता है, प्रदान किया जाये। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम सीधी भर्ती के समस्‍त संवर्गों हेतु संचालित होते हैं। बुनियादी प्रशिक्षण का मूल उद्देश्य होता है कि वे भावी पुलिस अधिकारियों को पुलिस पद के कर्तव्यों तथा अपेक्षाओं के अनुरूप उनकी क्षमता विकास कर उन्हें पुलिस के पदीय दायित्वों के प्रति संस्कारित कर सकें । अकादमी की व्यावसायिक दक्षता तथा कार्य कौशल इस पर निर्भर है किस प्रकार अपने इस दायित्व का निर्वहन कर पाती है। मप्रपुअ इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिये प्रशिक्षण उन्नयन तथा प्रशिक्षण की अधोसंरचना विकास हेतु लगातार क्रियाशील है तथा सभी बुनियादी प्रशिक्षण कार्यक्रमों में उच्च कोटि का प्रशिक्षण संपादन करने हेतु सक्षम हैं। बुनियादी प्रशिक्षण अत्यंत महत्वपूर्ण इसलिये भी है क्योंकि इन प्रशिक्षण कार्यक्रमों को न करने पर किसी भी भरती किये गये पुलिसकर्मी को स्थाई नहीं किया जा सकता तथा उसे वेतन भत्ते में कोई लाभ प्राप्त करने की पात्रता नहीं होती। पुलिस सेवा में स्थाईकरण हेतु भी यह कोर्स आवश्यक है। सीधी भर्ती से आने वाले भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी प्रदेश संबंधी मूलभूत प्रशिक्षण 4 सप्‍ताह हेतु प्राप्‍त करते हैं वहीं उप पुलिस अधीक्षक स्‍तर के राज्‍य प्र‍शासनिक सेवा परीक्षा पास अधिकारी गण अपना मूलभूत प्रशिक्षण उप पुलिस अधीक्षक बेसिक कोर्स के अंतर्गत प्राप्‍त करते हैं विभागीय चयन से आने वाले उप निरीक्षक संवर्ग के अधिकारी भी अपना मूलभूत प्रशिक्षण अकादमी से प्राप्‍त करते हैं। लिपिकीय संवर्ग चयन परीक्षा के उपरांत आने वाले लिपिक संवर्गीय अधिकारी/कर्मचारी भी अपना मूलभूत प्रशिक्षण इस अकादमी से प्राप्‍त करते हैं। इस प्रकार अधिकारी संवर्ग में उपरोक्‍त 4 प्रकार के मूलभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित होते हैं। अकादमी परिसर में ही स्थित पुलिस प्रशिक्षण विद्यालय में नव आरक्षकों का भी भर्ती उपरांत मूलभूत प्रशिक्षण संचालित होता है। जो 9 माह की अवधि निर्धारित है।


OTHER COURSES

प्रशिक्षण कार्य हेतु प्रशिक्षण शाखा के अंतर्गत विभिन्‍न प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किये जाते हैं यह प्रशिक्षण मूलत: बेसिक कार्सेस, केरियर लिंक कोर्सेस, इन सर्विस कोर्सेस, स्‍पेशलाईज्ड कोर्सेस, ट्रेनर डेव्‍हलपमेंट कोर्सेस, बाह्य प्रशिक्षण कोर्सेस , ऑनलाईन कोर्सेस, अन्‍य ट्रेनिंग प्रोग्राम श्रेणियों में बांटा जा सकता है। उपरोक्‍त समस्‍त कोर्सेस प्रशिक्षण आवश्‍यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए संचालित किये जाते हैं। इस प्रकार के कोर्सेस में उपयोगिता मूलक विषय जैसे व्यक्तित्व विकास, संवाद कौशल, प्रबंधकीय तकनीक, मानव संसाधन प्रबंधन इत्यादि विषय शामिल किए गए है । जिससे कि प्रशिक्षणार्थियों को व्यवहारिक समस्याओं को सुलझाने का अनुभव प्राप्त हो सके

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम पुलिस के कार्य संपादन को व्यावसायिक रूप से दक्ष और प्रभावी बनाने के लिये बनाये गये हैं। इसीलिये इसे केरियर लिंक कोर्स कहा गया है।

Read More

इन सर्विस कोर्स के अंतर्गत सेवा में कार्यरत अधिकारी गणों की क्षमता विकास तथा विशिष्‍ट कार्य प्रणालियों को दक्ष बनाने हेतु व विभिन्‍न दृष्टिकोण ज्ञान तथा कौशल विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम

Read More

स्पेशलाइज्ड कोर्स उन क्षेत्रों के अन्तर्गत जो पुलिस की विशिष्ट कार्य प्रणाली में परिपक्व बनाने हेतु प्रशिक्षुओं को विशिष्ट रूप से प्रशिक्षण प्रदान करने की प्रक्रिया निर्धारित

Read More

प्रशिक्षकों के लिये कई प्रकार के टीओटी प्रशिक्षण टीएनए प्रशिक्षण आयोजित किये जाते हैं इसके अतिरिक्‍त बाह्य प्रशिक्षण कार्यक्रम में बाह्य प्रशिक्षण जो कि ड्रिल,

Read More

आउटडोर प्रशिक्षण की श्रेणी में समस्त शारीरिक प्रशिक्षण, आब्सटिकल प्रशिक्षण, फिटनेस प्रशिक्षण, एथलेटिक्स, ड्रिल-कवायत, परेड, खेलकूद गतिविधियां, ड्रायविंग, वेपन तथा योग

Read More

म.प्र. पुलिस अकादमी में आनलाईन पुलिस ट्रेनिंग की प्रभावी प्रदेशव्यापी व्यवस्था विद्यमान है । इस व्यवस्था के अंतर्गत संपूर्ण अकादमी में संचालित सभी प्रशिक्षण कार्यक्रमों में इनपर्सन ट्रेनिंग

Read More


Last Updated:06 Oct, 2022