ALUMNI CORNER


मध्यप्रदेश पुलिस अकादमी में 2013 से लगातार उप पुलिस अधीक्षक तथा उप निरीक्षक स्तर का बुनियादी प्रशिक्षण संचालित हो रहा है । इसके अतिरिक्त पुलिस की लिपीकीय संवर्ग का प्रशिक्षण भी यहां पर संचालित है । वर्तमान तक अकादमी में कुल 06 उप पुलिस अधीक्षक स्तर के बुनियादी प्रशिक्षण कार्यक्रम पूर्ण हो चुके हैं जो निम्न हैः

क्रमांक बैच प्रशिक्षण वर्ष कुल संख्या
01 36 वां उपुअ 2013 17
02 37 वां उपुअ 2017 51
03 38 वां उपुअ 2018 40
04 39 वां उपुअ 2019 54
05 40 वां उपुअ 2019 36
06 41 वां उपुअ 2020 38

इसी प्रकार उप निरीक्षक संवर्ग के कुल 04 बुनियादी प्रशिक्षण कार्यक्रम पूर्ण हो चुके हैं जो निम्न हैः-

क्रमांक बैच प्रशिक्षण वर्ष कुल संख्या
01 87 वां उनि 2013 188
02 88 वां उनि 2014 332
03 89 वां उनि 2016 295
04 90 वां उनि 2017 445
05 91 वां उनि 2019 160

इसी प्रकार पुलिस के लिपीकीय संवर्ग के सूबेदार (एम) तथा सउनि (एम) के बुनियादी प्रशिक्षण के तीन सत्र संचालित हुए है जो निम्न है -

क्रमांक बैच प्रशिक्षण वर्ष कुल संख्या
01 सूबेदार (अ)/ उनि (अ)/ सउनि (अ) 2018 196
02 सूबेदार (अ)/ उनि (अ)/ सउनि (अ) 2019 434

वर्तमान में नव आरक्षक का भी प्रथम बैच पुलिस प्रशिक्षण शाला में संचालित किया जा रहा है । उपरोक्त समस्त बैचेस इस अकादमी के एल्युमिनाय है तथा उनका एक संगठन बनाया जाना प्रस्तावित है । जिसका क्रियान्वयन, गतिविधियां, सर्विस मेटर एवं वार्षिक सम्मेलन अकादमी के सहयोग से एल्युमिनाय एसोसिएशन के व्दारा किया जाएगा ।


आनलाईन ट्रेनिंग

म.प्र. पुलिस अकादमी में आनलाईन पुलिस ट्रेनिंग की प्रभावी प्रदेशव्यापी व्यवस्था विद्यमान है । इस व्यवस्था के अंतर्गत संपूर्ण अकादमी में संचालित सभी प्रशिक्षण कार्यक्रमों में इनपर्सन ट्रेनिंग के साथ-साथ आनलाईन ट्रेनिंग की व्यवस्था भी निर्धारित है ।

वर्ष 2020 में कोरोना पैंडेमिक के कारण लॉकडाउन होने के उपरांत इनपर्शन प्रशिक्षण राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बंद करना पड़ा । इस चुनौती का सामना करते हुए म.प्र.पुलिस अकादमी में म.प्र.पुलिस प्रशिक्षण शाखा के विशिष्ट मार्गदर्शन में आनलाईन प्रशिक्षण की व्यापक योजना बनाई । इसके अंतर्गत 08 पैरेलल वेबेक्स अकाउंटस के माध्यम से वेबिनार्स तथा आनलाईन प्रशिक्षण व्यवस्था लागू की गई ।


बेसिक ट्रेनिंग में आनलाईन ट्रेनिंग व्यवस्था

बेसिक ट्रेनिंग के अंतर्गत उप पुलिस अधीक्षक तथा उप निरीक्षक के प्रशिक्षण को आनलाईन अकादमी के माध्यम से संचालित किया गया । इसके अंतर्गत जिले में कार्यरत उप पुलिस अधीक्षक, उप निरीक्षक अपने-अपने जिलों से ही अकादमी से जुड़कर प्रशिक्षण प्राप्त करते रहे और उनका संपूर्ण सेमेस्टर का प्रशिक्षण आनलाईन माध्यम से ही संचालित हुआ ।

  1. व्यवहारिक प्रशिक्षम प्राप्त करने वाले वरिष्ठ स्तर के प्रशिक्षु उपुअ अपना डिस्ट्रिक ट्रेनिंग रिव्यू आनलाईन प्रस्तुत किया तथा परिक्षक पैनल ने आनलाईन मार्किंग की ।
  2. लिपिक संवर्गीय आनलाईन प्रशिक्षम के अंतर्गत लिपिकीय संवर्ग का तीसरा बुनियादी प्रशिक्षण संपूर्ण तीन माह का प्रशिक्षण अकादमी के स्तर पर आनलाईन माध्यम से किया गया तथा इसकी परीक्षा भी आनलाईन ली गई । यह एक विशिष्ट प्रयास था जिसमें संपूर्ण प्रशिक्षण आनलाईन संचालित हुआ ।

इस प्रकार बुनियादी प्रशिक्षण आनलाईन संचालित कर ऐसी परिस्थिति निर्मित नहीं होने दी गई जिसमें की कोरोना पैंडेमिक के कारण प्रशिक्षण बाधित हो और प्रशिक्षित कर्मचारी मैदानी पुलिसिंग हेतु उपलब्ध ना हो सके ।


इन सर्विस प्रशिक्षण में आनलाईन प्रशिक्षण की भूमिका

इन सर्विस प्रशिक्षण के अंतर्गत विभिन्न पुलिस आवश्यकताओं का क्रियान्वयन आनलाईन माध्यम से प्रभावी रूप से किया जा रहा है । केवल प्रदेश के ही नहीं अपितु प्रदेश के बाहर के पुलिसकर्मी भी इस प्रशिक्षण का लाभ प्राप्त कर रहे है । इसके अंतर्गत आनलाईन माध्यम से फॉरेंसिक साइंस, साइबर क्राइम, जेंडर सेंसेटाइजेशन, अपराध अनुसंधान महिलाओं के खिलाफ अपराध, सामुदायिक पुलिसिंग तथा अन्य पुलिसिंग विषयों पर लगातार वेबिनार और प्रशिक्षण कार्यशालाएं आनलाईन माध्यम से संचालित होती है । जिसमें प्रदेश स्तर के राष्ट्रीय स्तर के तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक भाग ले रहे है ।


Last Updated:31 Oct, 2022